पश्चिम उत्तर प्रदेश: बच्चा चोरी की अफ़वाह ज़ोरों पर, भीड़ ने दो भाइयों को पीटा, एक की मौत - Badhata Rajasthan - नई सोच नई रफ़्तार

Breaking

Wednesday, 28 August 2019

पश्चिम उत्तर प्रदेश: बच्चा चोरी की अफ़वाह ज़ोरों पर, भीड़ ने दो भाइयों को पीटा, एक की मौत

उत्तर प्रदेश के सम्भल ज़िले में दो भाई अपने बीमार भतीजे का इलाज कराने जा रहे थे, जब भीड़ ने उन पर हमला कर दिया. इसमें एक भाई की मौत हो गई. पुलिस ने बताया कि बच्चा चोरी की अफ़वाह फैलाने के आरोप में तकरीबन 44 लोगों को अलग-अलग घटनाओं में गिरफ़्तार किया गया है.

Sambhal

सम्भल/मुजफ्फरनगर: पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में बच्चा चोरी की अफवाह जोरों पर है. अफवाहों के बीच सम्भल जिले में बीते मंगलवार को भीड़ द्वारा दो भाइयों को इतनी बुरी तरह से पीटा गया कि एक ही मौत हो गई.

मामला संभल जिले के चंदौसी कोतवाली क्षेत्र का है. पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि कुढ़ फतहगढ़ थाना क्षेत्र में छावड़ा गांव के दो भाई राजू (32) और राम अवतार (28) अपने भतीजे को दवाई दिलाने चंदौसी जा रहे थे. जराई गांव में भीड़ ने बच्चा चोर समझकर इन दोनों को बंधक बना लिया और उनकी पिटाई कर दी जिससे वे घायल हो गए.

उन्होंने बताया कि दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां राजू की मौत हो गई जबकि राम अवतार को मुरादाबाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

उन्होंने बताया कि इस मामले में चार आरोपियों को हिरासत में लिया गया है. उक्त मामले की जांच शुरू कर दी गई है. इस घटना में शामिल सभी आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

मालूम हो कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में इन दिनों बच्चा चोरी की अफवाह जोरों पर है. मुजफ्फरनगर जिले में कथित तौर पर बच्चा चोरी की अफवाह फैलाने के मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अभिषेक यादव के अनुसार मधादा गांव के बिंदू राज और गौतम सिंह, कासेरवा गांव के चांद, सदरुद्दीन नगर के अमित और सोनू का मंगलवार शाम गिरफ्तार किया गया.

इसी तरह गाजियाबाद के लोनी में बच्चा चोर होने के शक में भीड़ ने एक महिला की पिटाई की. पुलिस ने बताया कि वह महिला अपने पोते साथ वहां खरीददारी करने गई थीं.

पुलिस ने कहा कि जो भी लोग उस महिला संबंधित वीडियो सोशल मीडिया पर उसे बच्चा चोर कहकर शेयर कर रहे हैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, 22 अगस्त को मानसिक रूप से कमजोर एक व्यक्ति को बच्चा चोर होने के संदेह में गाजियाबाद के डासना रेलवे स्टेशन पर पीटा गया. उसे रेलवे पुलिस द्वारा बचाया गया.

गाजियाबाद के आकाश नगर क्षेत्र में बीते 25 अगस्त को शांति भंग करने के लिए पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार लोग कथित तौर पर अफवाह फैला रहे हैं कि दो व्यक्तियों ने क्षेत्र में एक नाबालिग का अपहरण कर लिया है. इन दोनों लोगों को भीड़ ने घेर कर मारा था.

रिपोर्ट के अनुसार, बीते 25 अगस्त को ही मेरठ में बच्चा चोर होने के संदेह में एक व्यक्ति को भीड़ ने पीटा था. यह व्यक्ति मेरठ के शाहजहांपुर क्षेत्र में जड़ी बूटी बेचने आया था. इस संबंध में पुलिस ने आठ लोगों को गिरफ्तार किया है.

इस तरह बीते 25 अगस्त को कैराना में पांच महिलाओं पर बच्चा चोर होने के शक में भीड़ ने हमला कर दिया था. ये महिलाएं गुजरात से कैराना नारियल का छिलका बेचने आई हुई थीं. इस संबंध में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

थाना प्रभारी यशपाल धमा ने बताया कि गुजरात की पांच महिलाओं को बच्चा चोरी के आरोप में कथित तौर पर पीटा गया. अधिकारी ने बताया कि पुलिस के एक दल ने मौके पर पहुंच महिलाओं को बचाया. उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में मामला दर्ज कर लिया गया है.

मुजफ्फरनगर में 27 अगस्त को बच्चा चोरी की अफवाह फैलाने के आरोप में दो लोगों का चालान किया गया.

इस बीच एडीजी (कानून व्यवस्था) पीवी रामाशास्त्री ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में विभिन्न जिलों में बच्चा चोर होने के संदेह में लोगों को पीटे जाने की घटनाएं सामने आई हैं. हम घटनाओं की जांच कर रहे हैं. बच्चा चोरी होने की कोई घटना नहीं हुई है. ये सब असामाजिक तत्वों द्वारा फैलाई जा रही अफवाह है. अब तक इस संबंध में पुलिस ने 44 लोगों को गिरफ्तार किया है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

The post पश्चिम उत्तर प्रदेश: बच्चा चोरी की अफ़वाह ज़ोरों पर, भीड़ ने दो भाइयों को पीटा, एक की मौत appeared first on The Wire - Hindi.

No comments:

Post a Comment