Friday, 16 August 2019

कश्मीरी पत्रकार को आधी रात में हिरासत में लिया गया, परिवार को आरोपों की जानकारी नहीं

0 comments

सुरक्षाबलों ने बुधवार रात लगभग 11 बजे ग्रेटर कश्मीर अखबार के पत्रकार इरफान अमीन मलिक के पुलवामा के त्राल स्थित घर पर छापा मारने के बाद उन्हें हिरासत में ले लिया. अनुच्छेद 370 हटने के बाद हिरासत में लिए गए मलिक पहले पत्रकार हैं.

irfan-malik-1200x544

कश्मीरी पत्रकार इरफान अमीन मलिक (फोटो साभारः फेसबुक)

श्रीनगरः कश्मीर के एक स्थानीय पत्रकार में काम करने वाले एक पत्रकार को बुधवार देर रात पुलवामा के त्राल स्थित उनके घर से हिरासत में ले लिया गया. परिवार ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी.

‘ग्रेटर कश्मीर’ समाचार पत्र में काम करने वाले पत्रकार इरफान अमीन मलिक की मां हसीना जान ने द वायर को बताया कि बुधवार रात लगभग 11 बजे सुरक्षाबलों ने उन्हें (मलिक) को हिरासत में ले लिया.

हसीना ने कहा, ‘पुलिस घर में घुस आई. उन्होंने मलिक के बारे में पूछा और बिना किसी की सुने और बिना कुछ कहे वे उसे (मलिक) ले गए. हम हैरान थे और हमने त्राल में पुलिस स्टेशन तक सुरक्षाबलों का पीछा किया.’

मलिक (26) बीते चार सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं.

अवंतिपुरा के एक पुलिस अधिकारी ने मलिक को हिरासत में लिए जाने की पुष्टि की लेकिन इसके कारणों का कोई खुलासा नहीं किया.

इस दोपहर मलिक के पिता मोहम्मद अमीन और उनकी मां श्रीनगर में सरकार द्वारा बनाए गए मीडिया फेसिलिटेशन सेंटर गए. उन्होंने अपने बेटे की गिरफ्तारी को लेकर मीडिया को इसकी जानकारी दी.

परिवार के सदस्यों का कहना है कि गुरुवार सुबह वे अपने बेटे की गिरफ्तारी के संबंध में अवंतिपुरा के पुलिस अधीक्षक ताहिर सलीम से मिलने गए.

हसीना ने कहा, ‘पुलिस लॉकअप में हमें हमारे बेटे से मिलने की मंजूरी दी गई लेकिन पुलिस और जिला प्रशासन में से कोई भी हमें उसकी गिरफ्तारी का कारण नहीं बता रहा.’

केंद्र सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद बीते 11 दिनों से घाटी में पूरी तरह से बंदी है.

हसीना ने कहा, ‘हम किसी से संपर्क नहीं कर पा रहे हैं. हमने कई अधिकारियों से मिलने की कोशिश की लेकिन वे ऑफिस में नहीं थे. हम हमारे बेटे के लिए चिंतित हैं.’

द वायर ने जम्मू कश्मीर के सहायक पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) मुनीर खान से संपर्क किया, जिन्होंने कहा कि वे सूचना इकट्ठी करेंगे और उसी के अनुरूप परिवार को सूचित करेंगे.

इसके बाद सरकार के प्रवक्ता रोहित कंसल से भी संवाददाताओं ने मलिक की गिरफ्तारी के बारे में पूछा, जिस पर उन्होंने कहा, ‘मुझे उनकी (मलिक) की गिरफ्तारी के बारे में पता चला. हम पुलिस से इसके बारे में जानकारी मांगेंगे और मीडिया के साथ उस जानकारी को साझा करेंगे.’

हालांकि, कंसल ने इसका कोई जवाब नहीं दिया कि वह इस संबंध में मीडिया से कब जानकारी साझा करेंगे.

गौरतलब है कि पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से मलिक पहले मीडियाकर्मी हैं, जिन्हें गिरफ्तार किया गया है.

The post कश्मीरी पत्रकार को आधी रात में हिरासत में लिया गया, परिवार को आरोपों की जानकारी नहीं appeared first on The Wire - Hindi.

No comments:

Post a Comment